बहन की हो गई थी मौत, घर में मातम का माहौल था और जॉनी लीवर स्टेज पर परफॉर्म करने निकल पड़े

बहन की हो गई थी मौत, घर में मातम का माहौल था और जॉनी लीवर स्टेज पर परफॉर्म करने निकल पड़े

दिग्गज अभिनेता जॉनी लीवर हिंदी सिनेमा के बेहतरीन हास्य अभिनेताओं में गिने जाते है. अपने बेहतरीन काम और गजब की कॉमेडी से जॉनी लीवर ने बड़ा और ख़ास नाम कमाया है. जॉनी लीवर किसी परिचय के मोहताज नहीं है. बीते करीब 40 सालों से वे फ़िल्मी दुनिया से जुड़े हुए है. जॉनी 80 और 90 के दशक में खूब फिल्मों में सक्रिय रहे हालांकि वे अब भी फिल्मों में काम कर रहे है. हालांकि जॉनी का जलवा अपने दौर में एक तरफ़ा देखने को मिलता था. उन्होंने 80 और 90 के दशक के लगभग हर बड़े कलाकार के साथ काम किया था. वे फिल्मों में अपनी बेहतरीन कॉमेडी से जान फूंक दिया करते थे.

शुरू से ही जॉनी को फ़िल्मी कलाकारों की मिमिक्री करने का शौक था. फिल्मों में आने से पहले ही वे कॉमेडी किया करते थे और लोगों को हंसाया करते थे. जॉनी बॉलीवुड में आने से पहले अपना गुजारा करने के लिए स्टेज शो किया करते थे. वे जगह जगह प्रस्तुति देते थे.

जॉनी लीवर ने हाल ही में एक साक्षात्कार में हिस्सा लिया और इस दौरान उन्होंने अपने साक्षात्कार में अपने निजी जीवन से जुड़ी एक दिल दहला देने वाली घटना का खुलासा किया है. उन्होंने बताया है कि उनकी बहन की मौत होने के बावजूद वे शो करने के लिए निकल पड़े थे. यह किस्सा बेहद भावुक कर देने वाला है. यह बात है जॉनी के करियर के शुरुआती समय की. जॉनी अपनी बहन को खो चुके थे. जिस दिन उनकी बहन का देहांत हुआ था उसी दिन वे शो करने के लिए गए थे. जॉनी के घर मातम पसरा हुआ था और वे लोगों को हंसाने गुदगुदाने के लिए निकल पड़े थे.

अपने साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि, जिस दिन मेरी बहन की डेथ हुई थी. उसी दिन मुझे एक शो करना था. मुझे लगा कि मेरा शो आठ बजे होगा. लेकिन एन मौक़े पर पता चला कि वह दोपहर के बाद चार बजे था. जब मेरी दोस्त ने मुझसे पूछा कि शो कैंसिल कर दिया तो मैंने उसे कहा कि शो तो रात में है तो उसने बताया कि शो दिन में हैं. वह भी कॉलेज के फंक्शन में हैं.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Johny Lever (@iam_johnylever)

अभिनेता ने आगे कहा कि, मैं सबके सामने से चुपचाप छुप कर अपने घर से अपने कपड़े लेकर टैक्सी से रवाना हुआ और मैंने अपने कपड़े भी टैक्सी में ही बदलें क्योंकि उस दौरान मेरे पास कार नहीं हुआ करती थी. यह सभी जानते हैं कि कॉलेज का क्लाउड इतना ज़्यादा होता है वो लोग अपने मूड में होते हैं और किसी चीज़ की परवाह नहीं करते हैं. उस दिन मैंने किस तरीक़े से शो किया यह मैं ही जानता हूं.

Bolly News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *