17 साल की उम्र में छोड़ा घर, पढ़ाया ट्यूशन; कॉल सेंटर में किया काम… फिर बनीं ऐसी एक्ट्रेस

17 साल की उम्र में छोड़ा घर, पढ़ाया ट्यूशन; कॉल सेंटर में किया काम… फिर बनीं ऐसी एक्ट्रेस

उर्फी जावेद ने अपनी जिंदगी में काफी बुरा वक्त देखा लेकिन कभी हिम्मत नहीं हारीं. अकेली होने के बावजूद ना वो डरीं और ना वो रुकीं. पैसों के लिए ट्यूशन पढ़ाने से लेकर कॉल सेंटर में काम कर चुकीं उर्फी का एक्टिंग तक का सफर काफी मुश्किल था। उर्फी जावेद सोशल मीडिया का बड़ा नाम है. वो जैसे ही घर से कदम बाहर निकालती हैं तो खबर बन जाती है. बने भी क्यों ना…मोहतरमा का स्टाइल है ही कुछ ऐसा. बेहद ही स्टाइलिश उर्फी अपने ड्रेसिंग सेंस को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा में रहती हैं।

लेकिन लखनऊ से लेकर मुंबई तक का सफर उर्फी के लिए इतना आसान नहीं रहा जितना दिखता है. महज 17 साल की ही थीं उर्फी जब उन्होंने और उनकी बहनों ने अपने माता पिता का घर छोड़ दिया. वो अपनी जिंदगी को अपने तरीके से जीना चाहती थीं।

घर तो छोड़ दिया था लेकिन गुजारा कैसे होता लिहाजा उर्फी ने लखनऊ में ही अलग रहते हुए बच्चों को ट्यूशन पढ़ाना शुरू किया. लेकिन ये सब वो नहीं था जो उर्फी करना चाहती थीं उन्हें जिंदगी में कुछ बनना था लिहाजा उन्होंने लखनऊ से निकलने की ठान ली।

उर्फी जावेद लखनऊ से निकलकर दिल्ली जा पहुंचीं और यहां उन्होंने कॉल सेंटर में काम करना शुरू कर दिया. ये काम उनकी मर्जी का तो नहीं था लेकिन वो पैसों के लिए ये नौकरी कर रही थीं।

चूंकि उर्फी बचपन से ही एक्ट्रेस बनना चाहती थीं लिहाजा कुछ पैसे जोड़ने के बाद उन्होंने दिल्ली से मुंबई का रुख किया. यहां आने के बाद उर्फी की जिंदगी का एक और स्ट्रगल शुरू हुआ. वो एक दिन में 10-10 ऑडिशन देतीं लेकिन इन ऑडिशन से ही उन्हें पता चला कि उन्हें एक्टिंग बिल्कुल नहीं आती।

इसके बाद उर्फी ने एक्टिंग क्लास ली और खुद को इंडस्ट्री के काबिल बनाया. वहीं मुंबई में रहना आसान नहीं था लिहाजा पैसों के लिए उर्फी ने छोटे मोटे रोल करना शुरू कर दिया. वो कई बड़े सीरियल्स में छोटे किरदारों में दिखीं लेकिन उनकी जिंदगी बदली बिग बॉस ओटीटी ने और उसके बाद की उनकी पूरी जर्नी हम सबके सामने है।

Bolly News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *